Tuesday, February 11, 2014

नया दिन है

नया दिन है, नयी उमंग है, नया है सवेरा,
पल पल इंतज़ार है, कब आयेगा पैगाम तुम्हारा ?
 तुम जो मिलते हो, फिर मिल कर बिछड़ जाते हो,
किसी दिन मेरी जान ले लेगा, अंदाज़ ये तुम्हारा।
तुम किसी को देख कर ऐसे न मुस्कुराया करो, 
किसी को भी पागल बना सकता है, चेहरा तुम्हारा।
बस एक छोटी सी गुजारिश है अगर मान लो, 
कभी दूर ना जाना तोड़ कर दिल हमारा।


Thursday, February 6, 2014

मेरा देश महान

भीख मांगते बच्चे देखे,
पल पल दुःखी देखा इंसान।
क्या होगा अब देश का,
अब तो भला करे भगवान।
हो जाते है करोड़ो के घोटाले,
और गरीबी से मर जाते हैं किसान।
जिसका जो हो उसे मिलता नहीं,
बिच में खा जाते हैं बेईमान।
इतिहास गवाह है देश का,
यहाँ रहे हमेशा हिन्दू और मुसलमान।
ना वो बन सके कभी भारतीय,
और ना बन सके एक अच्छा इंसान।
लड़ने लगते हैं जात-धर्म के नाम पर,
भूल जाते हैं कि वो हैं एक इंसान।
जानवर बन कर छीन लेते हैं,
एक बच्चे से भी उसकी पहचान।
ये हैं मेरे देश कि हालत,
फिर भी हो रहा हैं भारत निर्माण।
अब तो बस भला करे भगवन।
अब तो बस भला करे भगवन।