Tuesday, September 17, 2013

अगर तुम्हे भी हमसे मोहब्बत हो जाती

अगर तुम्हे भी हमसे मोहब्बत हो जाती 
मेरी जिंदगी बस यूं ही संवर जाती
अगर हो जाती तुम्हे पाने की तमन्ना पूरी 
फिर जन्नत की तमन्ना भी मुझे नहीं होती 
मिलते बिछड़ते ही रहते है लोग जिंदगी में 
बस एक तुम्हे पाने की खुवाहिस पूरी नही होती 
अगर मिल जाता तेरा साथ जिंदगी भर के लिए 
तो मुझे जीने के लिए साँसों की भी जरुरत नहीं होती