Saturday, May 21, 2011

दोस्ती

किसी के ख्यालो में दिल ऐसे खो जाता है,
पता ही नहीं चलता कब किसका हो जाता है
मिल जाते हैं जिन्दगी में कुछ ऐसे लोग भी,
जिनके बिना जीना भी दुस्वार हो जाता है
तकलीफ तो तब होती जब वो छोड़ के जाता है,
उसकी यादो के सहारे पूरा दिन गुजर जाता है,
रात को नींद नहीं आती, दिन को चैन नहीं आता है।
उसकी यादो से दिल उभर नहीं पाता है।
क्या है ये रिश्ता, क्या है ये बंधन,
ये है दोस्ती का रिश्ता जो है सबसे बढ़कर,
जिसका कोई दोस्त नहीं वो दुनिया में बेकार में ही आता है

Friday, May 6, 2011

वो भी याद करेंगे......


जब वो लोगो से जख्म खायेंगे,
देख लेना उन्हें हम याद आयेंगे
जो खुश थे हम से दूर रह कर,
एक दिन वो हमें पास बुलायेंगे
जो रोशन करते थे हमारे घर को,
एक दिन अंधेरो में कहीं खो जायेंगे
जब वो खायेंगे लोगो से धोखा,
तब उन्हें हमपर किये सितम याद आयेंगे
मुझे विश्वास है वो बुलाएँगे हमें एक दिन,
और हम इस दुनिया से चले जायेंगे

दिल में है वो.....


मेरे दिल में यह एहसास रहता है,
कोई तो है जो हमारे पास रहता है
नींद नहीं है अब हमारी आँखों में,
कोई हमारी आँखों में रहता है
रोज मिलते हैं हम उससे रात को,
जब वह हमारे सपनो में आता है
जिधर भी देखते हैं इस जमीं को,
बस आपका चेहरा ही नजर आता है
खो गए हैं हमारी आँखों के आंसू,
हमेश कोई हमें हंसाता रहता है
जब सुनते हैं अपने दिल की धडकनों को,
हमें बारिस आने का एहसास होता है
भीगे रहते हैं किसी के ख्यालो में,
क्यूंकि कोई हमारे दिल में रहता है.